Sunita DAYAL WOMEN EMPOWERMENT

महिला सशक्तिकरण की नीव मज़बूत करती भाजपा संगठन

महिला सशक्तिकरण की नीव मज़बूत करती भाजपा संगठन

यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता ।

यत्रैतास्तु न पूज्यन्ते सर्वास्तत्राफला क्रिया।

जहाँ स्त्रियों का आदर किया जाता है, वहाँ देवता निवास करते हैं। जहाँ इनका अनादर होता है, वहाँ सारे काम निष्फल होते हैं। स्त्री हमारे समाज की प्रगति का मूल आधार है जिस पर हमारी सामाजिक एवं सांस्कृतिक उन्नति की नींव आधारित है। वर्तमान में पितृ सत्तात्मक समाज होने के बाद भी महिलाएँ पुरुषों से किसी भी रूप में पीछे नहीं है जिसका प्रमाण हम स्वर्गीय श्रीमती सुषमा स्वराज जी, कल्पना चावला, पीवी सिंधू, मिताली राज, सावित्री जिंदल, अंजलि गुप्ता, श्रीमती सुनीता दयाल जी (Smt. Sunita Dayal Ji) आदि के रूप में वभिन्न क्षेत्रों में देख सकते हैं।

पिछले कुछ वर्षों में महिलाएँ पुरुषों ने मिलकर समाज की रूढ़िवादी सोच को तोड़ा है, जहाँ महिलाओं को केवल एक दायरे में क़ैद कर रखा जाता था, जिसे हम आज महिला सशक्तिकरण के रूप से जानते हैं। समाज की एकता, उन्नति एवं उद्धार के लिए महिलाओं का शिक्षक एवं आदमी निर्भर होना अति आवश्यक है। महिलाओं की आत्मनिर्भरता का सजीव उदाहरण वर्तमान में उनकी नेतृत्व करने की क्षमता द्वारा देखा जा सकता है जहाँ महिला, पुराने रीति रिवाज़ों को पीछे छोड़ते हुए राजनीतिक व्यवस्था तथा देश की उन्नति में अपना योगदान दे रहे हैं जिसका उदाहरण हाल ही में नियुक्त की गई बिहार की उप मुख्यमंत्री श्रीमती रेनू देवी जी, राज्यसभा सदस्य और भाजपा उत्तर प्रदेश संगठन द्वारा नियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती सुनीता दयाल जी (Smt. Sunita Dayal Ji) के रूप में देखा जा सकता है।

भाजपा संगठन ने न केवल महिलाओं की उन्नति में सहयोग किया है बल्कि उनके परिश्रम को सराया है जिसका एक उचित उदहारण उत्तर प्रदेश भाजपा संगठन की नवनियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती सुनीता दयाल जी (Smt. Sunita Dayal Ji) के रूप में देखा जा सकता है। उनका जीवन विद्यार्थी काल से ही समाज की कल्याण में सुधार के लिए समर्पित रहा है। शिक्षा प्राप्ति के दौरान वे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में थीं। ग्रेजुएशन करते हुए उन्होंने वीएमएलजी कॉलेज में छात्र संघ का चुनाव लड़ा और महासचिव चुनी गईं। इससे पूर्व उन्होंने छात्राओं के अधिकारों के लिए संघर्ष किया। वीएमएलजी कॉलेज में छात्र संघ चुनाव करवाने में भी उनकी अहम भूमिका रही। श्रीमती सुनीता दयाल (Smt. Sunita Dayal) प्रारंभ से ही संवेदनशील, साहसी, संघर्षशील और दृढ़ता से अपनी बात रखने वाली रहीं हैं । वह भाजपा में महिला मोर्चे की महानगर अध्यक्ष/जिला अध्यक्ष, प्रदेशमंत्री, महिला मोर्चे राष्ट्रीय महामंत्री एवं अन्य पदों पर रही जहाँ उन्होंने महिला सशक्तिकरण और उनकी समस्याओं को लेकर निरंतर कार्य किए जिसमें से एक असंख्य वृध एवं विधवा महिला पेंशन भी रही।

महिलाएं केवल कुशल गर्हिणी ही नहीं बल्कि समाज-सुधारक भी हैं, वे दुर्गा भी हैं, वे सरस्वती भी हैं। महिलाओं को उचित सराहना देना तथा उनके हर कदम में उनका साथ देना ही एक उज्जवल भविष्य बनाने में सहायक साबित होता है। सुनीता दयाल जी (Smt. Sunita Dayal Ji) तथा अन्य विभिन्न महिलाओं के उदहारण की ही तरह आने वाले समय में और महिलाएं आगे आये और देश को मजबूत बनाने में अपना किरदार निभाएं यह ही भाजपा सरकार का उद्देश्य रहा है ।

Follow these personalities to know more about them:

Smt. Sunita Dayal : Twitter, Facebook

P. V. Sindhu : Twitter, Facebook

Smt. Renu Devi : Twitter

Print Friendly, PDF & Email